Discipline in hindi. अनुशासन पर निबंध 2019-02-27

Discipline in hindi Rating: 7,8/10 1046 reviews

DISCIPLINE Meaning in Hindi: Translation of Discipline in Hindi

discipline in hindi

Stay healthy: Disciplined life includes regular habits like taking food, medicine if any , having a bath, exercise, and sleeping at right time. विद्यार्थी को चाहिए कि विद्यालय में रहकर विद्यालय द्वारा बनाए गये सभी नियमों का पालन करे. By betraying his own kin Momutu decided to give up his humanity, while on the other hand, Amoo gave up his own freedom to protect his family. Delhi, Electronic engineering, Electronics 424 Words 3 Pages This essay is to explain discipline to you and what it means to me and what it means to everyone. This school discipline can help children habituate it and can be carried on for life. इस तरह परिवार तथा हमारे समाज में भी कुछ निति नियमों का होना आवश्यक हो जाता हैं ताकि समाज सही दिशा में आगे प्रगति कर सके. Sense of responsibility teaches the students to be more discipline towards their work.

Next

Hindi Essay On Discipline Free Essays

discipline in hindi

Knight blasted the mismanagement and greed of the Raj, attacking annexation policies that. यदि मनुष्य अनुशासन में जीवन यापन करता हैं तो वह स्वयं के लिए सुखद एवं उज्ज्वल भविष्य की राह निर्धारित करता हैं. We can overcome procrastination and laziness in work. पेड़ पौधों में भी अनुशासन व्याप्त रहता हैं. Stay active: Discipline is a way of a positive outlook to life.

Next

विद्यार्थी और अनुशासन पर निबंध

discipline in hindi

परिक्षा में बच्चों को अनुशासन पर निबंध भाषण आदि लिखने को कहा जाता हैं. People around and also the sub-ordinates respect a person who is disciplined. Each essay is a separate assignment. Why is Discipline Important Being disciplined is a way to gain many advantages and benefits in life. रात्रि के भोजन के पश्चात समय पर सोना भी विद्यार्थी के लिए उत्तम रहता हैं.

Next

Discipline meaning in Hindi

discipline in hindi

While coming to school in time helps them awake early, attend nature calls, have a bath and breakfast in time. Alexander Pope, Essay, Essays 1053 Words 4 Pages Definition of Military Discipline Military Discipline is a state of order and obedience existing within a command. Skinner, Experimental analysis of behavior, Operant conditioning 902 Words 3 Pages Anonymous 20 November 2012 Discipline Discipline is the most useful quality. Hindustan Petroleum, Management, Mechanical engineering 837 Words 6 Pages their motivation was will determine if their act was moral or not. Discipline can vary from keeping yourself from eating the last piece of pizza or killing someone. Self-control: A person with self-discipline has more self-control over himself. As per the current lifestyle and social trends, discipline techniques seems to be one of the essential life skills.

Next

अनुशासन पर कुछ महान व्यक्तियों विचार

discipline in hindi

Without this order, there would be utter chaos. Discipline, Grammatical person, Life 1104 Words 4 Pages create flashcards for free at Cram. It is a habit and not an adaptation in life. Hence discipline in schools helps students to stay healthy which is good for the growth of both body and mind. Even in case of a chronic disease taking medicines at a regular time helps get well soon.

Next

अनुशासन पर निबंध

discipline in hindi

A person with strong goals are more focused and keep up to work on time in everyday life. अनुशासन पर निबंध 1 100 शब्द हर एक के जीवन में अनुशासन सबसे महत्पूर्ण चीज है। बिना अनुशासन के कोई भी एक खुशहाल जीवन नहीं जी सकता है। कुछ नियमों और कायदों के साथ ये जीवन जीने का एक तरीका है। अनुशासन सब कुछ है जो हम सही समय पर सही तरीके से करते हैं। ये हमें सही राह पर ले जाता है। हम अपने रोजमर्रा के जीवन में कई प्रकार के नियमों और कायदों के द्वारा अनुशासन पर चलते हैं। इसके कई सारे उदाहरण हैं जैसे हम सुबह जल्दी उठते हैं, एक ग्लास साफ पानी पीते हैं, तरोताजा होने के लिये शौचालय जाते हैं, दाँत साफ करते हैं, स्नान करते हैं, नाश्ता करते हैं, स्कूल जाते हैं आदि सभी अनुशासन का ही एक प्रकार है। अनुशासन पर निबंध 2 150 शब्द जीवन के सभी कार्यों में अनुशासन अत्यधिक मूल्यवान है। हमें हर समय इसका पालन करना है चाहे वो स्कूल, घर, कार्यालय, संस्थान, फैक्टरी, खेल का मैदान, युद्ध का मैदान या दूसरी जगह हों। ये खुशहाल और शांतिपूर्णं जीवन जीने की सबसे बड़ी जरुरत है। ये हमें ढेर सारे बड़े मौके देती है, अनुशासन आगे बढ़ने के लिये सही रास्ता देती है, जीवन में सही बातें सीखाती है, कम समय में ज्यादा अनुभव मिलता है आदि। जबकि अनुशासन की कमी की वजह से ढेर सारी दुविधा और गड़बड़ी होती है, अनुशासनहीनता की वजह से जीवन में शांति और प्रगति के बजाय ढेर सारी परेशानी उत्पन्न हो जाती है। अनुशासन अपने बड़ों, ऑफिस के सीनीयर, शिक्षक, और माता-पिता के हुक्म का पालन करना है जिससे हम सफलता की ओर आगे बढ़ते हैं। हमें नियमों पर चलने की, आज्ञा का पालन करने की और सही तरीके से व्यवहार करने की जरुरत है। हमें अपने जीवन में अनुशासन के महत्व को समझना चाहिये। जो लोग अनुशासनहीन होते हैं वो अपने जीवन में बहुत सारी समस्याओं को झेलते हैं साथ ही निराश भी होते हैं। अनुशासन पर निबंध 3 200 शब्द अनुशासन किसी भी कार्य को ठीक ढंग से करने का एक तरीका है। इसके लिये आपके शरीर और दिमाग पर एक नियंत्रण की जरुरत होती है। कुछ लोगों के पास स्व-अनुशासन प्राकृतिक संपत्ति के रुप में होता है जबकि कुछ को इसे अपने अंदर विकसित करना पड़ता है। अनुशासन में वो दक्षता है कि वो भावनाओं को नियंत्रित कर सकता है और मुश्किलों से पार पाने के साथ ही सही समय पर सही कार्य करने में मदद करता है। बिना अनुशासन के जीवन अधूरा और असफल है। अपने बड़ों और वरिष्ठों का सम्मान करने के द्वारा हमें कुछ नियमों का पालन करना चाहिये। ये जीवन के सभी कार्यों के लिये एक महत्वपूर्णं यंत्र है चाहे वो घर, कार्यालय, खेल का मैदान या दूसरी जगह हो। अगर हम अनुशासन का पालन न करें तो हमारा जीवन अव्यवस्थित हो जायेगा। इस दुनिया में हर चीज अनुशासित है और अनुशासन के द्वारा संगठित है। हवा, पानी और जमींन हमें जीवन जीने का रास्ता देते है। ये दुनिया, देश, समाज, समुदाय आदि सबकुछ बिना अनुशासन के असंगठित हो जायेगा क्योंकि सब कुछ अनुशासन पर निर्भर है। अनुशासन एक स्वभाव है जो प्रकृति द्वारा प्रदत्त सभी चीजों में उपस्थित है। अनुशासन पर निबंध 4 250 शब्द अनुशासित व्यक्ति आज्ञाकारी होता है और उसके पास उचित सत्ता के आज्ञा पालन के लिये स्व-शासित व्यवहार होता है। अनुशासन पूरे जीवन में बहुत महत्व रखता है और जीवन के हर कार्यों में इसकी जरुरत होती है। यह सभी के लिये आवश्यक है जो किसी भी प्रोजेक्ट पर गंभीरता से कार्य करने के लिये जरुरी है। अगर हम अपने वरिष्ठों की आज्ञा और नियमों को नहीं मानेंगे तो अवश्य हमें परेशानियों का सामना करना पड़ेगा और असफल भी हो सकते हैं। हमें हमेशा अनुशासन में होना चाहिये और अपने जीवन में सफल होने के लिये अपने शिक्षक और माता-पिता के आदेशों का पालन करना चाहिये। हमें सुबह जल्दी उठना चाहिये, निययमित दिनचर्या के तहत साफ पानी पीकर शौचालय जाना चाहिये, दाँतों को साफ करने के बाद नहाना चाहिये और इसके बाद नाश्ता करना चाहिये। बिना खाना लिये हमें स्कूल नहीं जाना चाहिये। हमें सही समय पर स्वच्छता और सफाई से अपना गृह-कार्य करना चाहिये। हमें कभी भी अपने माता-पिता की बातों का निरादर, नकारना या उन्हें दुखी नहीं करना चाहिये। हमें अपने स्कूल में पूरे यूनिफार्म में और सही समय पर जाना चाहिये। कक्षा में स्कूल के नियमों के अनुसार हमें प्रार्थना करना चाहिये। हमें अपने शिक्षकों की आज्ञा का पालन करना चाहिये, साफ लिखावट से अपना कार्य करना चाहिये तथा सही समय पर दिये गये पाठ को अच्छे से याद करना चाहिये। हमें शिक्षक, प्रधानाध्यापक, चौकीदार, खाना बनाने वाले या विद्यार्थियों से बुरा बर्ताव नहीं करना चाहिये। हमें सभी के साथ अच्छा व्यवहार करना चाहिये चाहे वो घर, स्कूल, कार्यालय या कोई दूसरी जगह हो। बिना अनुशासन के कोई भी अपने जीवन में कोई भी बड़ी उपलब्धि प्राप्त नहीं कर सकता। इसलिये अपने जीवन में सफल इंसान बनने के लिये हमें अपने शिक्षक और माता-पिता की बात माननी चाहिये। अनुशासन पर निबंध 5 300 शब्द अनुशासन एक क्रिया है जो अपने शरीर, दिमाग और आत्मा को नियंत्रित करता है और परिवार के बड़ों, शिक्षकों और माता-पिता की आज्ञा को मानने के द्वारा सभी कार्य को सही तरीके से करने में मदद करता है। ये एक ऐसी क्रिया है जो अनुशासन में रह कर हर नियम-कानून को मानने के लिये हमारे दिमाग को तैयार करती है। हम अपने दैनिक जीवन में सभी प्राकृतिक संसाधनों में वास्तविक अनुशासन के उदाहरण को देख सकते हैं। सूरज और चाँद का सही समय पर उगना और अस्त होना, सुबह और शाम का अपने सही समय पर आना और जाना, नदियाँ हमेशा बहती है, अभिभावक हमेशा प्यार करते हैं, शिक्षक हमेशा शिक्षा देते है और भी बहुत कुछ। तो फिर क्यों हम अपने जीवन में पीछे हैं, बिना परेशानियों का सामना किये आगे बढ़ने के लिये हमें भी अपने जीवन में सभी जरुरी अनुशासन का पालन करना चाहिये। हमें अपने शिक्षक, अभिभावक और बड़ों की बातों को मानना चाहिये। हमें उनके अनुभवों के बारे में उनसे सुनना चाहिये और उनकी सफलता और असफलता से सीखना चाहिये। जब भी हम किसी चीज को गहराई से देखना और समझना शुरु करते हैं, तो ये हमें जीवन में महत्वपूर्ण सीख देता है। मौसम अपने सही समय पर आता और जाता है, आकाश बारिश करता है और रुकता है आदि सभी सही समय होती हैं जो हमारे जीवन को संतुलित बनाती है। इसलिये, इस धरती पर जीवन चक्र को कायम रखने के लिये हमें भी अनुशासन में रहने की जरुरत है। हमारे पास अपने शिक्षक, अभिभावक, पर्यावरण, परिवार, वातावरण और जीवन आदि के प्रति बहुत सारी जिम्मेदारियां हैं। मानव होने के नाते हमारे पास सोचने-समझने का, सही-गलत के बारे में फैसला करने के लिये और अपनी योजना को कार्य में बदलने के लिये अच्छा दिमाग है। इसलिये, अपने जीवन में अनुशासन के महत्व और जरुरत को जानने के लिये हम अत्यधिक जिम्मेदार हैं। अनुशासनहीनता की वजह से जीवन में ढेर सारी दुविधा हो जाती है और व्यक्ति को गैर-जिम्मेदार और आलसी बना देता है। ये हमारे विश्वास के स्तर को कम करती है और आसान कार्यों में भी व्यक्ति को दुविधाग्रस्त रखती है। जबकि अनुशासन में होने से ये हमें जीवन के सबसे अधिक ऊंचाईयों की सीढ़ी पर ले जाती है। अनुशासन पर निबंध 6 400 शब्द अनुशासन कुछ ऐसा है जो सभी को अच्छे से नियंत्रित किये रखता है। ये व्यक्ति को आगे बढ़ने के लिये प्रेरित करता है और सफल बनाता है। हम में से हर एक ने अपने जीवन में समझदारी और जरुरत के अनुसार अनुशासन का अलग-अलग अनुभव किया है। जीवन में सही रास्ते पर चलने के लिये हर एक व्यक्ति में अनुशासन की बहुत जरुरत पड़ती है। अनुशासन के बिना जीवन बिल्कुल निष्क्रिय और निर्थक हो जाता है क्योंकि कुछ भी योजना अनुसार नहीं होता है। अगर हमें किसी भी प्रोजेक्ट को पूरा करने के बारे में अपनी योजना को लागू करना है तो सबसे पहले हमें अनुशासन में होना पड़ेगा। अनुशासन दो प्रकार का होता है एक वो जो हमें बाहरी समाज से मिलता है और दूसरा वो जो हमारे अंदर खुद से उत्पन्न होता है। हालाँकि कई बार, हमें किसी प्रभावशाली व्यक्ति से अपने स्व-अनुशासन आदतों में सुधार करने के लिये प्रेरणा की जरुरत होती है। हमारे जीवन के कई पड़ावों पर बहुत से रास्तों पर हमें अनुशासन की जरुरत पड़ती है इसलिये बचपन से ही अनुशासन का अभ्यास करना अच्छा होता है। स्व-अनुशासन का सभी व्यक्तियों के लिये अलग-अलग अर्थ होता है जैसे विद्यार्थियों के लिये इसका मतलब है सही समय पर एकाग्रता के साथ पढ़ना और दिये गये कार्य को पूरा करना। हालाँकि काम करने वाले इंसान के लिये सुबह जल्दी उठना, व्यायाम करना, समय पर कार्यालय जाना और ऑफिस के कार्य को ठीक ढंग से करना। हर एक में स्व-अनुशासन की बहुत जरुरत है क्योंकि आज के आधुनिक समय में किसी को भी दूसरों को अनुशासन के लिये प्रेरित करने का समय नहीं है। बिना अनुशासन के कोई भी अपने जीवन में असफल हो सकता है, अनुशासन के बिना कोई भी इंसान कभी भी अपने अकादमिक जीवन या दूसरे कार्यों की खुशी नहीं मना सकता। स्व-अनुशासन की जरुरत हर क्षेत्र में होती है जैसे संतुलित भोजन करना मोटापे और बेकार खाने को नियंत्रित करना , नियमित व्यायाम इसके लिये एकाग्रता की जरुरत है आदि। गड़बड़ और अनियंत्रित खाने-पीने से किसी को भी स्वास्थ्य से जुड़ी समस्याएँ हो सकती हैं इसलिये स्वस्थ रहने के लिये अनुशासन की जरुरत है। अभिवावक को स्व-अनुशासन को विकसित करने की जरुरत है क्योंकि उसी से वो अपने बच्चों को एक अच्छा अनुशासन सिखा सकते हैं। उन्हें हर समय अपने बच्चों को प्रेरित करते रहने की जुरुरत पड़ती है जिससे वो दूसरों से अच्छा व्यवहार करें और हर कार्य को सही समय पर करें। कुछ शैतान बच्चे अपने माता-पिता के अनुशासन को नहीं मानते हैं, ऐसे वक्त में अभिभावकों को हिम्मत और धैर्य के साथ अपने बदमाश बच्चों को सिखाना चाहिये। प्रकृति के अनुसार अनुशासन को ग्रहण करने की सभी व्यक्ति का अलग समय और क्षमता होती है । इसलिये, कभी हार मत मानो और लगातार प्रयास करते रहो अनुशासन में होने को, छोटे-छोटे कदमों से ही बड़ी मंजिलें हासिल की जा सकती हैं। लोकप्रिय पृष्ठ: An Entrepreneur Director, White Planet Technologies Pvt. Staying disciplined helps one study well in advance and not just before exams so he remains tension free. Under it won many competitions ranging from debates, extempore, antakshri and ad hash in National level competitions. I am aware that I agreed to the initial counseling that I was expected to be fifteen minutes prior to any formation.

Next

विद्यार्थी और अनुशासन पर निबंध

discipline in hindi

English definition of Discipline : a branch of knowledge; in what discipline is his doctorate? Distance education, Education, Employment 417 Words 2 Pages Discipline The Code of Conduct Apart from developing an intellectual curiosity among its students, Trident aims at enriching character of all its members in order to equip them encounter all the challenges on and off the campus. Family orientation, hard work and industry, and faith and religiosity were among those counted as Filipino assets. In the similar way when we try to evaluate a person, society or nation in terms of its goodness or badness, then also most often the criterion of such evaluation is nothing but the discipline. यदि दृष्टि डाली जाए तो समाज में चारो तरफ अनुशासनहीनता दिखाई देती हैं. Therefore, this essay will serve to explore the benefits of having and obtaining this humbleness while all the while being conscious of a danger that comes with such dedication. विद्यार्थियों का मन चंचल और शरारती होता हैं अनुशासन उनके चंचल मन को स्थिर करता हैं यह स्थिरता उन्हें जीवन के संघर्ष को द्रढ़तापूर्वक आगे बढ़ने में सहायक होती हैं यह सब अनुशासन के कारण ही संभव हो पाता हैं. Speech On Discipline In Hindi अनुशासन पर भाषण व स्पीच: अनुशासन प्रत्येक व्यक्ति के जीवन में अनिवार्य है.


Next

DISCIPLINE Meaning in Hindi: Translation of Discipline in Hindi

discipline in hindi

But that is up to the solder, anyway over the years the military had to change to keep the morale up in the military. A passionate writer, writing content for many years and regularly writing for Hindikiduniya. Each student must have a sense of responsibility to carry out their duty to ensure the class is in harmony and conducive for teaching and learning sessions. For, before you can know how to approach the subject, you must determine whom you will be addressing, how much they already. विद्यार्थी के लिए अनुशासन में रहना और सभी कार्यों को व्यवस्थित रूप से करना अत्यंत आवश्यक हैं. Discipline leads to success in everything you do from school, or sports. Classroom discipline helps students to listen to teachings well and also cover the entire syllabus.

Next